Ludo-Netflix movie Review

Hello friends, how are you? I have brought your friend on Bollywood Guru and E3 Movies Review of a new movie called Ludo. we all know Ludo was one of our gaming careers since we were young. ludo is a part of our childhood and ever since Ludo has been launched with Android and iPhone versions and Ludo has become quite familiar. 



Anurag Basu, who is famous for his bold and action-filled movies from the beginning. And once again, Anurag Basu has brought the multi starer movie which has been copied in the movie. Abhishek Bachchan Aditya Roy Kapoor Rajkumar Rao Pankaj Tripathi Fatima Sana Sheikh Sanam Sania Malhotra Rohit Suresh Rawal Mane Inayat Verma Paritosh Tripathi Asha Negi Bhanu Re The same Amitabh Bachchan's voice has been inserted in this movie as a storyteller.

 

 


The story is divided into four parts. The first part is between Aditya Roy Kapur and Shana Sanya Malhotra who are trying to get one of their sex clips removed from the internet and try to get to the bottom of it. Abhishek Bachchan who is a Numbers are hooligans who have left work but still hold in the office Tripathi Jail, because of going to jail, his wife leaves him and goes away with his daughter when he is free from jail. When he reaches his wife, he comes to know that his wife has married another, his daughter does not know him now, she considers her father as her own. 




On the third side, Rajkummar Rao Fatima Sana Sheikh, who is a growing love, is the Fatima Sheikh of Rajkummar Rao who is married elsewhere and Rajkummar Rao still loves him very much. The case goes on and she runs for help in this movie shown by Mithun's fan towards Rajkummar Rao because Fatima Sana Shaikh likes Mithun Chakraborty and the fourth part is more than a job between Rohit Sharma, a salesman Rahul, Not happy, he shrugs to go to the job and somewhere the connection of these four is added. Pankaj is very much in demand with Tripathi, who is a supposed rogue. All the movies keep on running and overall 7.5 out of 10 points. The story could have been good. The storyline goes a little. In any case, Star Movies are more than the one which did not stand in this movie. 





नमस्कार दोस्तों क्या हाल-चाल है मैं आपका दोस्त बॉलीवुड गुरु E3 मूवीस पर ले कर आया हूं नई मूवी का रिव्यू जिसका नाम है लूडो लूडो लूडो को हम सब भली भांति जानते हैं जब हम छोटे थे तब से लूडो हमारे गेमिंग कैरियर का एक हिस्सा रहा है और जब से लूडो को एंड्रॉयड और आईफोन पर्वर्जन जो है लॉन्च किए गए हैं और लूडो काफी परिचित हो गया है पूरी दुनिया में लूडो काफी फेमस है तो बरहाल बात करते हैं लूडो मूवी की जिसके निर्माता है अनुराग बासु और अनुराग बासु जो कि शुरू से ही अपनी बोल्ड और एक्शन भरी मूवी ओं के कारण फेमस है.और एक बार फिर अनुराग बासु लेकर आए हैं मल्टीस्टारर मूवी जोकि एक्स एक्स पुलिस की गई है फिल्म में अभिषेक बच्चन आदित्य रॉय कपूर राजकुमार राव पंकज त्रिपाठी फातिमा सना शेख सनम सानिया मल्होत्रा रोहित सुरेश रावल माने इनायत वर्मा परितोष त्रिपाठी आशा नेगी भानु रे जैसे स्टार हैं वही अमिताभ बच्चन की आवाज यहां पर डाली गई है. कहानी चार भागों में बांटी गई है पहला भाग आदित्य रॉय कपूर और शाना सान्या मल्होत्रा के बीच है जो कि अपनी एक सेक्स क्लिप को इंटरनेट से हटवाने की कोशिश कर रहे हैं और उसकी तह तक पहुंचने की कोशिश करते हैं दूसरी तरफ अभिषेक बच्चन जो कि एक नंबर गुंडे होते हैं जो कि काम छोड़ चुके हैं लेकिन फिर भी उनको ऑफिस त्रिपाठी जेल में पकड़ा देता है जेल में जाने की वजह से उसकी बीवी उसको छोड़ देती है और उसकी बेटी को लेकर कहीं दूर चली जाती है जेल से आजाद होकर जब वह अपनी बीवी के पास पहुंचता है तो उसे पता चलता है इसकी बीवी ने दूसरी शादी कर ली है उसकी बेटी अब उसे नहीं जानती है वह अपने पिता को ही अपना मानती है. तीसरी तरफ राजकुमार राव फातिमा सना शेख जोकि एक बड़ा होता हुआ प्यार होता है राजकुमार राव का फातिमा शेख जिसकी शादी कहीं और कर दी जाती है और राजकुमार राव आज भी उसको अत्यंत प्यार करता है फातिमा सना शेख का जो हस्बैंड होते हैं उन पर मर्डर का केस चल जाता है और वह मदद के लिए भागती है राजकुमार राव की तरफ मिथुन के फैन दिखाए गए इस मूवी में क्योंकि फातिमा सना शेख को मिथुन चक्रवर्ती अच्छे लगते हैं और चौथा भाग है एक सेल्समैन राहुल के बीच रोहित शर्मा ने अपनी जॉब से कोई ज्यादा खुश नहीं है कतराते हैं जॉब पर जाने के लिए और कहीं ना कहीं इन चारों का कनेक्शन जुड़ जाता है पंकज त्रिपाठी के साथ बहुत ही मांग रहा है जो कि माना हुआ बदमाश होता है सारी फिल्में चलती रहती है और कुल मिलाकर 10 में से 7.5 अंक स्टोरी अच्छी बन सकती थी स्टोरी लाइन थोड़ी सी जाती है कोई मिलाकर स्टार मूवीस अपेक्षा ज्यादा होती है जो कि इस मूवी में खरी नहीं उतरी.